लॉक डाउन 4.0: दो हफ्तों के लिए बढ़ाया गया:- देश में 18 मई से लॉकडाउन के चौथे चरण की शुरुआत हो रहा है जो 31 मई तक रहेगा ,देश में जहां आज कोरोना संक्रमितो की संख्या 90 हजार को पार कर गई, ऐसे में लॉक डाउन 4.0 का शुरुआत हो रहा है, आज देश में 1 दिन में सबसे अधिक नए मामले आए, आज 4987 नए मामलों की पुष्टि हुई जबकि 120 लोगों की मौत हुई ,अब तक देश में कोरोना से 2872 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 34 हजार से अधिक लोग ठीक हो चुके हैं ,जैसा कि पीएम मोदी ने कहा था कि लॉक डाउन 4.0 में कुछ नया रहेगा उसी अनुसार इसमें अब 5 जोन होंगे ,

अभी तक केवल 3 जोन रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन थे, इसमें दो नए जोन को जोड़ा गया है कंटेनमेंट जोन और बफर जोन ,कंटेनमेंट जोन और बफर जोन रेड जोन और अरेंज जोन के भीतर ही होंगे ,जिसका निर्धारण स्थानीय जिला प्रशासन करेगा ,पीएम मोदी ने जब राज्यो के मुख्यमंत्रियों से बात की थी तब लगभग सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने इस बात को प्रमुखता से उठाया था कि जोन का निर्धारण और स्थानीय स्तर पर रियायत देने का अधिकार राज्यों के पास हो ,इस बार राज्यों की सुझाव को मानते हुए केंद्र ने जोन का निर्धारण का अधिकार और उसमें छूट के प्रावधानों पर निर्णय लेने का अधिकार राज्यों के लिए छोड़ दिया है ,रेड ,ऑरेंज और ग्रीन जोन का निर्धारण स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा निर्धारित मानकों को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकारों को इन जोनों का निर्धारण करना होगा, रेड जोन के अंतर्गत आने वाले कंटेंटमेंट जोन में पहले की तरह केवल जरूरी सेवाओं को ही आने-जाने की इजाजत होगी ,सामान्य लोग इसमें आवाजाही नहीं कर सकेंगे, 31 मई तक चलने वाले लॉकडाउन 4.0 में भी पहले की तरह स्कूल ,कॉलेज ,माल ,सिनेमा ,घरेलू एवं अंतरराष्ट्रीय उड़ाने ,मेट्रो सेवा ,मंदिर, मस्जिद ,गुरुद्वारा ,रेस्टोरेंट, होटल सभी पहले की तरह बंद रहेंगे, रेस्टोरेंट्स से केवल होम डिलीवरी ही की जा सकेगी , इसमें जो छूट मिला है उसमें सबसे प्रमुख है अंतर राज्यीय बसों की सेवा बहाल करना, इसमें एक राज्य से दूसरे राज्य में बसें आ जा सकती हैं,बसर्ते इसके लिए दोनों राज्यों में आपसी सहमति जरूरी है, बस सेवा टैक्सियों को चलाने पर छूट रहेगी, एहतियात के साथ ऑटो रिक्शा चल सकते हैं ,सरकारी दफ्तर खुलेंगे फैक्ट्रियां और दुकानें भी खोलने की इजाजत इसमें दी गई है ,दफ्तरों फैक्ट्रियों में थर्मल स्केनर और सैनिटाइजर की व्यवस्था करनी होगी ,सरकारी दफ्तरों के कैंटीन खुलेंगे, केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसका स्वागत करते हुए कहा कि हमारे सुझाव को मानते हुए सरकार ने यह एक अच्छा कदम उठाया है ,अब हम कुछ चीजों को छूट दे सकते हैं, इसके लिए कल नई गाइडलाइन जारी होगी ,वही उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भी खुशी जाहिर करते हुए कहा कि अब हम कुछ और छूट देंगे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here