पतंजलि का दावा मिल गई कोरोना की दवा :- योग गुरु स्वामी रामदेव ने आज कोरोना की दवा तैयार करने का दावा किया, उन्होंने मीडिया के सामने यह दावा किया कि पतंजलि ने कोरोना को हराने वाली दवा बना ली है,

जिसका नाम उन्होंने “कोरोनिल” रखा है, कोरोना का इलाज तीन तरह के दवाओं को मिलाकर हो रहा है ,जिसमें कोरोनिल श्वासरी बटी और अणु तेल है,
तीनों दवाओं का टेस्ट 280 मरीजों पर किया गया ,जिसमें 15 साल से लेकर 65 वर्ष तक लोगों पर किया गया, जिसमें रिकवरी रेट 100% रही और मृत्यु दर 0℅ रहा, कोरोनिल टैबलेट श्वासरीवटी और अणु तेल से सौ प्रतिशत मरीज ठीक हुए , तीनों दवाई अलग-अलग काम करती हैं,
इन तीनो दवाओं की कीमत मिलाकर ₹600 रखी गई है , स्वामी रामदेव ने बताया कि लोक कल्याण के लिए इस दवा की कीमत काफी कम रखी गई है, जिन लोगों के पास दवा खरीदने के पैसे नहीं होंगे उन्हें भी यह दवा मुफ़्त में दी जाएगी ताकि कोई भी व्यक्ति कोरोना से न मरे,
पतंजलि के इस दावे के बाद आयुष मंत्रालय हरकत में आ गया और आयुष मंत्रालय ने स्पष्ट किया अभी वह इसकी पुष्टि नहीं करता है ,आयुष मंत्रालय ने पतंजलि से पूरी रिपोर्ट मांगी है और पतंजलि से यह कहा है कि जब तक इसकी पुष्टि नहीं कर देता पतंजलि दवा का प्रचार-प्रसार ना करें, क्योंकि इससे लोगों में भ्रम पैदा होगा और करोड़ों लोगों पर इसका असर हो सकता है, आयुष मंत्रालय पतंजलि को कहा है कि वह बताए कि इस दवा का किन अस्पतालों में और कितने लोगों पर प्रयोग हुआ, ट्रायल शुरु करने के लिए , क्लिनिकल ट्रायल रजिस्ट्री आफॅ इंडिया cti में रजिस्ट्रेशन जरुरी होता है ,पतंजलि CTI में रजिस्ट्रेशन के साथ ट्रायल का पूरा विवरण दे, पूरी पड़ताल के बाद पतंजलि का दावा सही पाया जाता है तो इसके बाद दवा को कोरोना में इलाज के लिए अनुमति दी जाएगी,
स्वामी रामदेव ने दवा के बारे में बताया कि यह दवाएं पूरी तरह से आयुर्वेदिक हैं और इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है, कोरोनिल में अश्वगंधा गिलोय तुलसी शत् के अलावा 100 से ज्यादा आयुर्वेदिक तत्व पड़े हुए हैं, वहीं श्वासरीवटी में काकड़ा दालचीनी अश्वगंधा मुलेठी अकरकरा आदि मिला हुआ है ,अणु तेल भी पूरी तरह से आयुर्वेदिक है ,यह तीनों दवाएं मिलकर कोरोनावायरस को मारने में कारगर साबित हो रही है, इसका कोई साइड इफेक्ट भी नहीं है इस पर लगभग 500 वैज्ञानिक दिन रात काम कर रहे थे और लगभग 500 करोड रुपए का खर्च भी इस पर आया है, बाबा रामदेव ने बताया कि हमें इस दवा के विज्ञापन करने की जरूरत नहीं है ,यह दवा जन कल्याण के लिए बनाया गया है, इस महामारी से पूरा विश्व जूझ रहा है और यह सबके लिए लाभकारी सिद्ध होगा |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here