कोरोना महामारी पर प्रधानमंत्री ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से की बात:- पूरे देश में कोरोनावायरस के चलते बढ़ते हुए मरीजों की संख्या देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बात कर इस महामारी से निपटने के उपायों पर विचार विमर्श किया, 21 दिनों के लाकडाउन की समय सीमा समाप्त होने से पहले उन्होंने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से उनका पक्ष जाना, इस मुद्दे पर लगभग सभी राज्यों के मुख्यमंत्री लाकडाउन की समय अवधि बढ़ाने के पक्ष में दिखे, उड़ीसा और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पहले ही लाकडाउन अवधि पंजाब में 1 मई तक बढ़ा दी है, सभी लोगों का एक मत था कि इसको आगे बढ़ाने की दिशा में केंद्र सरकार देशव्यापी घोषणा करें, क्योंकि अभी लाकडाउन में छूट देने से देश में स्थिति और भयावह हो सकती है , महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री से लाकडाउन की अवधि 2 हफ्ते और बढ़ाने का सुझाव दिया , वही उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश , छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों ने भी लाकडाउन अवधि बढ़ाने का सुझाव दिया ,दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री से लाकडाउन 30 अप्रैल तक बढ़ाने का अनुरोध करते हुए कहा कि यदि लाकडाउन में ढील भी दी जाय तो ट्रांसपोर्ट को इसमें छूट ना दी जाए , पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री से राहत पैकेज की मांग की ,प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात करने के बाद पश्चिम बंगाल सरकार ने लॉक डाउन 30 अप्रैल तक बढ़ाने का फैसला लिया ,पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन की अवधि 30 अप्रैल तक बढ़ाने को कहा है, गृह मंत्रालय की एक रिपोर्ट के अनुसार पश्चिम बंगाल में लॉकडाउन का पालन सही तरीके से नहीं हो रहा है, राज्य में कई जगहों पर गैर जरूरी दुकानें भी खुली रही और पाबंदी के बावजूद वहां पर धार्मिक कार्यक्रम भी कई जगहों पर चलते रहे, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात करने के बाद तेलंगाना के मुख्यमंत्री के सी रामा राव ने लॉक डाउन की समय सीमा 30 अप्रैल तक बढ़ा दी है, राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी लॉक डाउन को आगे बढ़ाने के संकेत दिए हैं, प्रधानमंत्री मोदी कल या परसों देश को संबोधित भी कर सकते हैं,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here